Type Here to Get Search Results !

देवी गीत रचना -लखन कछवाहा स्नेही saisahitya

देवी गीत 
*******
धुन-मोसे चलो नै जाय,
     ,मैया तोरी ऊंची कटरिया ।
      ---०----०-----०------
मनवा, मोरो सकुचाये ।
मैया-कैसे आऊं दुवारिया ।। टेक 
           ------
हरवा के लाने, फुलवा नहीं हैं ।
मालनिया नहीं पहुंचाये ।। मैया,कैसे..
         ------
दूध प्याला बिन नै आऊं ।
ग्वालिया नहीं पहुंचाये ।।
मैया कैसे ................
        --------
खट्टे फल, नींबू के नैयां ।
काछनिया नहीं पहुंचाये ।।
मैया कैसे................
        --------
जल के कमण्डल खाली पड़े हैं ।
केवट नहीं पहुंचाये ।।
मैया कैसे.............
       --------
देवी यश-गान, मैं कैसे गाऊं ।
संगीतकार नै दिखायें।।
मैया कैसे आऊं दुवारियां..
      ******०*******
   रचना ---लखन कछवाहा 'स्नेही'
Tags

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.